Jun 18, 2024
LOCAL NEWS

सिरमौर: जोइया मामा मानदा नेईं नारे की गूंज का असर 527 विद्यार्थियों के भविष्य पर

वार्षिक परीक्षाओं से ठीक पहले शिक्षकों का तबादला
करना दुर्भाग्यपूर्ण:एसएमसी

 

सिरमौर: जोइया मामा मानदा नेईं नारे की गूंज का असर 527 विद्यार्थियों के भविष्य पर
न्यूज़ देशआदेश
पुरानी पेंशन बहाली की मांग को लेकर तीन मार्च को हिमाचल प्रदेश विधानसभा का घेराव करने के दौरान पहाड़ी बोली में लगाए गए जोइया मामा मानदा नेईं नारों की गूंज का असर राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला हालाहां में शिक्षा ग्रहण कर रहे 527 विद्यार्थियों के भविष्य पर भी पड़ा है।
स्कूल में परीक्षाएं चल रही हैं और यहां से पांच शिक्षकों का तबादला कर दिया गया है। इतिहास और अर्थशास्त्र के शिक्षकों के पद पहले से खाली हैं। स्कूल में शिक्षा ग्रहण कर रहे। बच्चों का जिम्मा मात्र कुछ अध्यापकों पर रह गया है।
पुरानी पेंशन बहाली को लेकर शिमला में लगे जोइया मामा मानदा नेईं के नारे लगाने वालों में हलाहां स्कूल के पांच शिक्षकों की संलिप्तता पाई गई थी। इसके बाद पांचों का तबादला शिमला और मंडी कर दिया गया। हालाहां स्कूल के दो टीजीटी ओमप्रकाश शर्मा व धर्म सिंह शर्मा, डीपीई सुरेंद्र सिंह, डीएम दलीप शर्मा व शास्त्री मनोज कुमार का तबादला कर दिया गया है।
विद्यालय के कार्यवाहक प्रधानाचार्य रामभज शर्मा ने बताया कि स्कूल में प्रवक्ता अर्थशास्त्र का पद तीन वर्ष और इतिहास प्रवक्ता का पद दो वर्षों से रिक्त हैं। प्रधानाचार्य का पद चार वर्ष, शारीरिक शिक्षक, अधीक्षक व सीनियर असिस्टेंट के पद भी खाली हैं। उन्होंने बताया कि विद्यालय में बच्चों की संख्या 527 है। पांच अध्यापकों के स्थानांतरण के बाद भाषा अध्यापक व वाणिज्य प्रवक्ता ही नियमित अध्यापक रह गए हैं।
एसएमसी अध्यक्ष पं. ब्रह्मदत्त शर्मा, उपाध्यक्ष रणदीप खाजटा और बलदेव ठाकुर, प्रताप ठाकुर, उदय चौहान, सुरेंद्र आदि ने कहा कि शिक्षकों का तबादला वार्षिक परीक्षाओं से ठीक पहले करना दुर्भाग्यपूर्ण है। उन्होंने शीघ्र स्टाफ की तैनाती की मांग की है।
उपनिदेशक उच्च शिक्षा सिरमौर कर्मचंद धीमान ने बताया कि सरकार के आदेश पर स्कूल के अध्यापकों के तबादले किए गए हैं। उन्होंने माना कि एक साथ तबादलों से स्कूल शैक्षणिक कार्य प्रभावित हुआ है। उम्मीद है कि जल्द शिक्षकों की तैनाती होगी