Jun 25, 2024
Popular News

पुरानी पेंशन बहाल नहीं हुई तो हम सरकार को करेंगे बाहर

पुरानी पेंशन बहाल नहीं हुई तो हम सरकार को करेंगे बाहर

 बारिश के बावजूद हजारों कर्मचारियों ने सड़क पर उतरकर पुरानी पेंशन बहाली के लिए उठाई आवाज

देश आदेश

 

जिला मुख्यालय नाहन में बारिश के बावजूद हजारों कर्मचारियों ने रविवार को सड़क पर उतरकर पुरानी पेंशन बहाली के लिए आवाज उठाई। एसएफडीए हाल नाहन में डटे कर्मचारियों ने ढोल नगाड़ों की थाप पर संकल्प रैली निकाली। कर्मचारियों ने दो टूक शब्दों में कहा कि मानसून सत्र से पहले यदि पुरानी पेंशन बहाल नहीं की तो शिमला में विधानसभा का परिवार सहित घेराव किया जाएगा।

पेंशन संकल्प रैली एसएफडीए हाल के गेट से शुरू हुई। ढोल नगाड़ों के साथ शुरू हुई यह रैली लाइब्रेरी चौंक, नया बाजार, गुरुद्वारा मार्ग, चौगान मैदान, गुन्नुघाट मार्ग से होती हुई नगर परिषद के कमेटी हाल के पास पहुंचकर समाप्त हुई। यहां पर नई पेंशन योजना कर्मचारी महासंघ के प्रदेशाध्यक्ष प्रदीप ठाकुर ने शपथ दिलाई।

इससे पूर्व एसएफडीए हाल नाहन में कर्मचारियों को संबोधित करते हुए प्रदीप ठाकुर ने कहा कि कर्मचारी लंबे समय से पुरानी पेंशन बहाली की मांग कर रहे हैं। कर्मचारियों की एकमात्र मांग है। इसके अलावा कुछ और मंजूर नहीं है। सरकार उनकी मांग को पूरा नहीं करती है तो कर्मचारी परिवार सहित मानसून सत्र में विधानसभा का घेराव करेंगे।

इस दौरान कई वक्ताओं ने दो टूक शब्दों में कहा कि सरकार चुनावों में अलग-अलग पार्टी की सरकार बनने का रिवाज बदलने की बात कर रही है। यह तभी संभव होगा जब हमारी पुरानी पेंशन बहाल होगी। हम उनका साथ देंगे। यदि पेंशन बहाल नहीं की तो हम सरकार को बाहर ही करेंगे।

वक्ताओं ने कहा कि राजस्थान, छत्तीसगढ़ और झारखंड में पुरानी पेंशन योजना बहाल कर दी गई है। ऐसे में प्रदेश सरकार को भी इसे बहाल कर देना चाहिए। उन्होंने कहा कि नई पेंशन योजना में कर्मचारियों का पैसा प्राइवेट कंपनी को जा रहा है।

 

संकल्प रैली में विभिन्न जिलों से आए संघ के जिला प्रधान, जिला प्रधान सुरेंद्र शर्मा, नाहन प्रधान संदीप कश्यप, राज्य कार्यकारिणी सदस्य मायाराम शर्मा, हरदेव ठाकुर सहित जिले भर से आए करीब चार हजार कर्मचारी मौजूद रहे।