Jun 17, 2024
Latest News

मिसाल: आंजभोज क्षेत्र की बहू व दो बेटियों की मां अनिता ने उत्तीर्ण की यूजीसी नेट की परीक्षा

आंजभोज क्षेत्र की बहू व दो बेटियों की मां अनिता ने उत्तीर्ण की यूजीसी नेट की परीक्षा

अच्छी खबर : असिस्टेंट प्रोफेसर की परीक्षा के लिए अपने आपको काबिल बनाया, नघेता समेत गिरिपार क्षेत्र का किया नाम रोशन

न्यूज़ देशआदेश

गिरिपार आंजभोज क्षेत्र की बहू अनिता शर्मा उर्फ अन्नु ने यूजीसी नेट की परीक्षा पास करके परचम लहराया है। जो क्षेत्र की महिलाओं और लड़कियों के लिए एक मिसाल पेश की है। मन में अगर कुछ करने की चाह हो तो कोई भी चीज बाधा नहीं बन सकती।

हां यहां बात अनिता शर्मा की ही कर रही है, जिन्होंने 26 वर्ष की उम्र में शादी होने के बाद पारिवारिक जिम्मेदारियों और दो बेटियों की मां होने के बावजूद अनिता शर्मा ने उत्तराखंड देव सुमन यूनिवर्सिटी से बीए तथा एमए की परीक्षा अच्छे अंकों में उत्तीर्ण की।

 

सभी पारिवारिक और सामाजिक जिम्मेदारियों को निभाते हुए अनिता शर्मा ने अपनी पढ़ाई को जारी रखा और आज यूजीसी नेट हिंदी की परीक्षा पास करके कॉलेज कैडर के लिए असिस्टेंट प्रोफेसर की परीक्षा के लिए अपने आपको काबिल बनाया है।

अनिता शर्मा एक सामान्य परिवार से ताल्लुक रखती हैं। उनके माता पिता तथा सास ससुर एक किसान परिवार से हैं। उसके बावजूद भी उन्होंने पढ़ाई करके यह मुकाम हासिल किया है। अनिता का सपना है कि वह प्रोफेसर बने।

चुनौतीपूर्ण रहा सफर, अब प्रोफेसर बनने की राह पर

उप मण्डल पांवटा में स्थित आंजभोज क्षेत्र के नघेता गांव में रहने वाली अनिता शर्मा उर्फ अन्नू ने यूसीजी नेट की परीक्षा में अच्छे अंक प्राप्त किए हैं। न्यूज़ देशआदेश से बात करते हुए उन्होंने बताया कि उनका यह सफर काफी चुनौतीपूर्ण रहा, लेकिन उन्होंने हार नहीं मानी और पहले प्रयास में ही उन्होंने यूजीसी नेट की परीक्षा पास कर ली। अब वह प्रोफेसर बनने की राह पर आगे बढ़ रही है और उसके लिए कड़ी मेहनत कर रही हैं।

किसान की बेटी और बहू होने पर गर्व

अनिता शर्मा उर्फ अन्नू के पिता सुंदर सिंह और ससुर सुमेर चंद किसान परिवार से हैं। अनिता के पति संजय शर्मा पांवटा क्षेत्र में स्थित एक स्कूल के शिक्षक है। अनिता शर्मा उर्फ अन्नु का कहना है कि उनके परिवार के सभी लोगों ने मेहनत करने के बाद यह मुकाम हासिल किया है। उन्हें काफी गर्व है कि पारिवारिक और सामाजिक जिम्मेदारियों को निभाते हुए दो बेटियों की मां होने तथा घर गृहस्थी जीवन होने के बावजूद भी उन्होंने इस सफलता को हासिल किया है।

सेवानिवृत शिक्षक एवं चाचा ससुर रवि दत्त शर्मा ने कहा कि गिरीपार आंजभोज क्षेत्र विशेषकर नघेता वासी  इस सफलता के लिए उन पर गर्व महसूस करते हैं और आगामी सफलता के लिए ईश्वर से कामना करते हैं