Jun 18, 2024
CRIME/ACCIDENT

DSP Murder: क्या डीएसपी से हुई चूक, पुलिस ने नहीं की कार्रवाई? पढ़ें- दो अहम सवालों के जवाब

DSP Surendra Singh Murder: क्या डीएसपी से हुई चूक, पुलिस ने नहीं की कार्रवाई? पढ़ें- दो अहम सवालों के जवाब

 

नूंह में खनन माफिया के गुर्गों ने मंगलवार को डीएसपी सुरेंद्र सिंह के ऊपर गाड़ी चढ़ाकर हत्या कर दी। इस वारदात के बाद हरियाणा की कानून व्यवस्था पर सवाल उठ रहे हैं। उधर दो बड़े सवाल ये भी हैं कि क्या डीएसपी अतिरिक्त पुलिस बल के साथ नहीं गए थे? क्या पुलिस फोर्स ने जवाबी कार्रवाई नहीं की, इन सवालों के जवाब पुलिस के एक शीर्ष अधिकारी ने दिया है।

घटना पर आईजीपी दक्षिणी ने कहा कि वह गुप्त सूचना के आधार पर औचक निरीक्षण करने गए थे। डीएसपी बैकअप फोर्स के साथ नहीं गए थे। औचक कार्रवाई की वजह से इसके लिए समय नहीं मिला होगा। वारदात में हथियारों का इस्तेमाल नहीं हुआ है।

 

उधर, हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज ने कहा कि मैंने आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई के आदेश दिए हैं। हम इलाके में पुलिस और बल तैनात करेंगे और किसी को भी नहीं बख्शा जाएगा। वहीं हरियाणा के खनन मंत्री मूल चंद शर्मा ने नूंह में अवैध खनन की जांच कर रहे डीएसपी की हत्या पर कहा कि मैं लोगों से कहना चाहता हूं कि सीएम मनोहर लाल खट्टर और हम पर भरोसा रखें। हम आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करेंगे। हमने केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह से भी इस घटना पर चर्चा की है।

 

हिसार के रहने वाले थे डीएसपी
इसी सूचना पर मंगलवार सुबह 11 बजे वह अपनी टीम के साथ पहुंचे। पुलिस टीम को देखकर पहाड़ी के पास खड़े डंपर, उनके चालक और खनन में लगे लोग भागने लगे। वाहन रोकने के लिए डीएसपी आगे आए तो डंपर चालक ने उनके ऊपर वाहन चढ़ा दिया। टायर के नीचे आने से डीएसपी की मौके पर ही मौत हो गई। इसके बाद वह फरार हो गया। घटना की सूचना मिलते ही एसपी नूंह वरुण सिंगला मौके पर पहुंचे हैं। आरोपी की गिरफ्तारी के लिए पुलिस कई स्थानों पर दबिश दे रही है। डीएसपी मूल रूप से हिसार के रहने वाले थे।

 

पुलिस भी सुरक्षित नहीं है तो जनता कैसे सुरक्षित महसूस करेगी- भूपेंद्र हुड्डा

हरियाणा कांग्रेस नेता भूपेंद्र हुड्डा ने कहा कि यह एक दुखद घटना है। घटना राज्य की कानून व्यवस्था की स्थिति को दर्शा रही है। हर व्यक्ति अपने आप को असुरक्षित महसूस कर रहा है। सरकार सख्त कदम उठाए। खनन माफिया बेखौफ हैं। कानून-व्यवस्था की स्थिति बिगड़ रही है। विधायकों को धमकाया जा रहा, पुलिस भी सुरक्षित नहीं है तो जनता कैसे सुरक्षित महसूस करेगी? सरकार को तेजी से कार्रवाई करने की जरूरत है।
बता दें कि नूंह में खनन की सूचना पर मंगलवार सुबह 11 बजे वह अपनी टीम के साथ पहुंचे। पुलिस टीम को देखकर पहाड़ी के पास खड़े डंपर, उनके चालक और खनन में लगे लोग भागने लगे। वाहन रोकने के लिए डीएसपी आगे आए तो डंपर चालक ने उनके ऊपर वाहन चढ़ा दिया। टायर के नीचे आने से डीएसपी की मौके पर ही मौत हो गई। इसके बाद डंपर चालक फरार हो गया। घटना की सूचना मिलते ही एसपी नूंह वरुण सिंगला मौके पर पहुंचे। आरोपी की गिरफ्तारी के लिए पुलिस कई स्थानों पर दबिश दे रही है। डीएसपी मूल रूप से हिसार के रहने वाले थे।
प्रदेश में अपराधियों के खिलाफ कार्रवाई पर हरियाणा के गृहमंत्री अनिल विज ने कहा कि हमने पहले ही सिस्टम को कड़ा कर दिया है। आज भी हरियाणा में एक अभियान चलाया गया। कल लगभग 400 से 425 असामाजिक तत्वों को पकड़ा गया। समय-समय पर ऐसे अभियान चलाए जाते हैं। मैं खुद हर हफ्ते इसकी निगरानी करता हूं, मैं अधिकारियों से व्यक्तिगत रूप से प्रगति के बारे में पूछता हूं।