Jun 18, 2024
HIMACHAL

मुख्यमंत्री बोले- अभी बजट में शामिल हो सकती हैं कई और घोषणाएं

मुख्यमंत्री बोले- अभी बजट में शामिल हो सकती हैं कई और घोषणाएं

 

निजी गोसदन का संचालन कर रहे, उसमें एक गाय के लिए 500 की जगह 700 कर दिए:CM

न्यूज़ देशआदेश

सार

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने कहा कि उन्हें जब दायित्व मिला था तो प्रदेश पर 50 हजार करोड़ रुपये का कर्ज था। पिछली सरकार ने तो सामान्य परिस्थितियों से भी ज्यादा कर्ज लिया। यह भी सच है कि आने वाले वक्त में कर्ज भी लेना पड़ेगा। ऐसा नहीं है कि चुनावी वर्ष में केवल वोट फोकस किया है। उन्हीं योजनाओं को मजबूत किया है, जो पहले साल में शुरू की थीं।

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने कहा है कि हिमाचल में वित्तीय वर्ष 2022-23 के बजट में अभी कुछ और घोषणाएं भी शामिल हो सकती हैं। वे देख रहे हैं कि किन चीजों को जोड़ सकते हैं। जो सुझाव आएंगे, उनके बारे में गौर करेंगे। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर से जब पूछा कि अभी किसान-बागवानों से जुडे़ कई वर्ग खाद और अन्य मामलों पर बजट में घोषणाएं नहीं होने से नाराज हैं, उनकी बातें शामिल नहीं हुईं वे ऐसा कह रहे हैं। इसी पर सीएम ने यह बात कही और कहा कि बजट पारित होने से पहले जो सुझाव आएंगे, उनमें जो करने लायक बातें होंगी, उन्हें किया जाएगा। मुख्यमंत्री ने कहा है कि जो गरीब है, वे उसके करीब हैं। वह रविवार को गृह पीटरहॉफ शिमला में बजट पर जन संवाद कार्यक्रम के दौरान बोल रहे थे।
मुख्यमंत्री ने कहा कि उन्हें जब दायित्व मिला था तो प्रदेश पर 50 हजार करोड़ रुपये का कर्ज था। पिछली सरकार ने तो सामान्य परिस्थितियों से भी ज्यादा कर्ज लिया। यह भी सच है कि आने वाले वक्त में कर्ज भी लेना पड़ेगा। ऐसा नहीं है कि चुनावी वर्ष में केवल वोट फोकस किया है। उन्हीं योजनाओं को मजबूत किया है, जो पहले साल में शुरू की थीं। 60 साल के बाद बुजुर्गों को सहयोग की जरूरत होती है, इसलिए सबके लिए पेंशन योजना लाए हैं। सत्ता में आने के बाद उन्होंने पहली कैबिनेट बैठक में 70 साल से ऊपर के सब बुजुर्गों के लिए पेंशन का प्रावधान किया।
जिस गाय को मां कहते हैं, आज वह चौराहे या सड़क पर है। ऐसे में गाय एक सरंक्षित जगह पर होनी चाहिए।

दूसरा निर्णय लिया कि जिस गाय को मां कहते हैं, आज वह चौराहे या सड़क पर है। ऐसे में गाय एक सरंक्षित जगह पर होनी चाहिए। आज वह कह सकते हैं, जहां हिमाचल प्रदेश में छह हजार गोवंश गोसदन में था, अब 20 हजार हैं। एक रुपये और जोड़कर गोवंश के लिए सेस रखा है। जो निजी गोसदन का संचालन कर रहे हैं, उसमें एक गाय के लिए 500 की जगह 700 कर दिए हैं। ऐसी कई योजनाएं हैं। उन्होंने कहा कि तीन बजट कोविड से प्रभावित रहे। पीएम नरेंद्र मोदी का बहुत सहयोग मिला।

सीएम के संबोधन को सभी विधानसभा क्षेत्रों में एलईडी स्क्रीन पर सुना
मुख्यमंत्री के इस संबोधन को प्रदेश के सभी विधानसभा क्षेत्रों में एलईडी स्क्रीन पर सुना गया। सोशल मीडिया पर भी लाइव प्रसारण किया गया। पीटरहॉफ में भी बड़ी संख्या में भाजपा कार्यकर्ता इकट्ठा हुए। सभी उपायुक्त कार्यालय भी वर्चुअल जुड़े। भाजपा प्रदेशाध्यक्ष सुरेश कश्यप, शहरी विकास मंत्री सुरेश भारद्वाज, संगठन महामंत्री पवन राणा, मुख्य सचिव राम सुभग सिंह, अतिरिक्त मुख्य सचिव वित्त प्रबोध सक्सेना, वित्त सचिव अक्षय सूद समेत कई गणमान्य नेता और अधिकारी मौजूद रहे।