Jun 18, 2024
Uncategorized

नाग देवता मंदिर मैदान में फारेस्ट फायर टूर्नामेंट शुरू, डीएफओ रहे मुख्यातिथि, किया शुभारंभ

नाग देवता मंदिर मैदान में फारेस्ट फायर टूर्नामेंट शुरू, डीएफओ रहे मुख्यातिथि, किया शुभारंभ

न्यूज़ देशआदेश

फायर सीजन की तैयारी को लेकर वन मण्डल पांवटा की ओर से नाग देवता मंदिर सालवाला-पुरुवाला मैदान में छह दिवसीय क्रिकेट टूर्नामेंट कप का शुभारंभ किया गया। मुख्यातिथि पांवटा वन मण्डल अधिकारी कुनाल अंगरीश ने रिबन काट कर फारेस्ट फायर खेल प्रतियोगिता का उद्घाटन किया।

प्रतियोगिता में वन मण्डल के आस-पास की 16 टीमों ने भाग लिया है। मुख्यातिथि ने पहले सिक्का उछाल कर दोनों के बीच टॉस किया। टूर्नामेंट का पहला मैच माजरी और धमौन के मध्य खेला गया । धमौन टीम ने टॉस जीतकर पहले क्षेत्ररक्षण का निर्णय लिया।

मुख्यातिथि डीएफओ कुणाल अंगरीश ने पहली गेंद खेल कर मैच की शुरूआत की । साथ ही दोनों टीमों के खिलाड़ियों को वन संरक्षण-वन संपदा को बचाने की शपथ ली तथा सभी खिलाड़ियों को एक-एक टी-शर्ट भेंट की।

पहला मैच में माजरी टीम ने बल्लेबाजी करते हुए आठ ओवर में 103 रनों के विशाल स्कोर खड़ा किया। जिसमें माजरी टीम खिलाड़ी लक्की 15 रनों के साथ 3 विकेट भी चटकाए।
लक्ष्य का पीछा करने उतरी धमौन की टीम केवल 72 रन पर ही सिमट गई। इसमें माजरी टीम 34 रनों से विजयी होकर अगले राउंड में चली गई।

वहीं दूसरा मैच सालवाला और डांडीवाला के बीच खेला गया। सालवाला टीम ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी की और 98 रनों के स्कोर खड़ा कर दिया। जवाब में डाँड़ीवाला टीम कुछ खास नहीं कर पाई और केवल 40 रन के स्कोर पर ढेर हो गई । इसमें सालवाला के खिलाड़ी विजय ने अपनी टीम को 50 रन और एक विकेट का योगदान दिया।

बतादें कि पांवटा वन मण्डल ने नई पहल शुरू की है। 15 अप्रैल से फायर सीजन शुरू होने के संदर्भ में वन मण्डल पांवटा की ओर से जागरूकता अभियान के तहत क्रिकेट का टूर्नामेंट का आयोजन शुरू किया । जिसमें आसपास जंगल क्षेत्र के नव युवक मण्डलों , क्लबों की 16 टीमें भाग ले रही है। यह प्रतियोगिता बिना एंट्री फीस के 23 मार्च से शुरू होकर 27 मार्च तक चलेगी। जिसमें विजेता टीम को 11000 तथा उपविजेता को 5100 रुपए नकद पुरस्कार दिया जाएगा। इसके अलावा खेल एवं जागरूकता शिविर में भाग लेने वाले सभी सदस्यों को वन विभाग की ओर से एक-एक टी-शर्ट भी भेंट की जा रही है।


डीएफओ ने कहा कि खेल प्रतियोगिता के साथ सभी युवाओं को शपथ दी तथा जागरूक किया । पर्यावरण का संतुलन बनाए रखने में पेड़-पौधों व वनों की अहम भूमिका है। ऐसे में युवाओं को वन संपदा को आग व अन्य नुकसान से बचाने के लिए जागरूकता जरूरी है। गर्मी का मौसम आ गया है पतझड़ रीत शुरू हो गई है। आग लगने की घटनाएं भी शुरू हो जाती है। ऐसे में जब भी कहीं जंगल में आग लगे तो उसे बुझाने में ग्रामीण के युवा लोग वन विभाग को तुरंत सूचना एवं सहयोग करें।

इस अवसर पर वन परिक्षेत्राधिकारी बस्ती राम, बीओ सुरेश कुमार, वन रक्षक अर्जुन सिंह, प्रवीण कुमार, प्रवीण, रमेश चंद शर्मा, गुमान सिंह, मदन, ज्ञान चंद आदि खिलाड़ी उपस्थित रहे।