Jun 18, 2024
EDUCATION

हड़कंप:जेओए परीक्षा का पेपर लीक, अभ्यर्थी समेत छह गिरफ्तार

हिमाचल: जेओए परीक्षा का पेपर लीक, अभ्यर्थी समेत छह गिरफ्तार, जांच शुरू, मचा हड़कंप

 न्यूज देशआदेश
सार
जूनियर ऑफिस असिस्टेंट की परीक्षा का पेपर लीक हो गया है। पुलिस ने इस मामले में छह लोगों को गिरफ्तार किया है। बताया जा रहा है परीक्षा शुरू होने से पहले ही प्रश्नपत्र के मोबाइल से फोटो खींचकर व्हाट्सएप पर वायरल कर दिए गए।

विस्तार

जूनियर ऑफिस असिस्टेंट (जेओए) आईटी की परीक्षा का रविवार को सुंदरनगर के निजी एमएलएसएम कॉलेज में पेपर लीक हो गया। इस मामले में निजी स्कूल के एक शिक्षक समेत छह लोग गिरफ्तार किए गए हैं। मंडी के उपायुक्त और पुलिस अधीक्षक ने इस मामले की जांच शुरू कर दी है। मामले में हड़कंप मच गया है। हिमाचल प्रदेश कर्मचारी चयन आयोग ने जिला प्रशासन और कॉलेज प्रबंधन से रिपोर्ट तलब कर ली है। हालांकि आयोग के सचिव डॉ. जितेंद्र कंवर ने कहा कि यह एक ही कॉलेज का मामला है, ऐसे में परीक्षा रद्द नहीं होगी। उन्होंने बताया कि नकल करने वाले अभ्यर्थी के खिलाफ स्थानीय परीक्षा अधीक्षक ने सुंदरनगर थाने में मामला दर्ज करवा दिया है।

उसके सहयोगी  को भी परीक्षा केंद्र के बाहर से गिरफ्तार किया गया। कॉलेज के दोनों परीक्षा केंद्रों में अभ्यर्थियों के प्रश्नपत्र और आंसरशीट सील कर दिए हैं। पोस्ट कोड-939 की लिखित परीक्षा के लिए प्रदेश भर में 517 केंद्र बनाए गए थे। 300 पदों के लिए करीब सवा लाख अभ्यर्थियों को कॉल लेटर जारी किए गए थे। बताया जा रहा है परीक्षा शुरू होने से पहले ही प्रश्नपत्र के मोबाइल से फोटो खींचकर व्हाट्सएप पर वायरल कर दिए। कॉलेज के स्टाफ के लोग भी संदेह के घेरे में हैं। कुछ की गिरफ्तारी भी हो सकती है। इतनी ज्यादा चेकिंग होने के बाद भी परीक्षा केंद्र में मोबाइल कैसे चला गया, यह भी बड़ा प्रश्न है।

मोबाइल फोन भी जब्त कर लिया है। इसी फोन से कई खुलासे होंगे। पूरे प्रदेश में पेपर लीक तो नहीं हुआ, इसकी जांच की जा रही है। पुलिस देर रात तक मामले में धरपकड़ करती रही। हालांकि अभी इस मामले में पुलिस खुलकर कुछ नहीं कह रही है। एसडीएम की सूचना पर परीक्षा केंद्र में उपायुक्त अरिंदम चौधरी और पुलिस अधीक्षक शालिनी अग्निहोत्री भी पहुंच गए।

पुलिस अधीक्षक ने बताया कि कॉलेज प्राचार्य डॉ. सीपी कौशल से जानकारी मिली कि 11 बजे परीक्षा शुरू हुई और करीब 11:30 बजे आरोपी अभ्यर्थी ने ड्यूटी पर तैनात महिला प्राध्यापक से शौचालय जाने का आग्रह किया। युवक वापस आया तो उस पर नकल करने का संदेह हुआ। महिला प्राध्यापक ने जानकारी उच्च अधिकारियों को दी। परीक्षा अधीक्षक आकर प्राध्यापक के साथ वहां युवक की तलाशी लेने लगे तो उसने प्राध्यापक से हाथापाई कर भागने का प्रयास किया, लेकिन उसे पकड़ लिया।

सूचना मिलने पर पहुंची पुलिस ने उसके पास से प्रश्नों के जवाब बरामद किए। पूछताछ के बाद उसने अपने सहयोगी के बारे में बताया, जिसे बाहर से गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने अभ्यर्थियों और कॉलेज स्टाफ से पूछताछ की है। पुलिस आशंका जता रही है कि मामले में और कई लोग शामिल हो सकते हैं।

आयोग के सचिव ने कहा कि एक अन्य परीक्षा केंद्र में भी अभ्यर्थी पेपर खत्म होने के बाद ओएमआर शीट लेकर परीक्षा केंद्र से बाहर चला गया था, जिसका रिकॉर्ड जांचकर उसके नंबर पर कॉल करने के बाद वह एक घंटे बाद ओएमआर शीट लौटाने आया। उधर, ऊना के बहडाला में भी नकल करने के आरोप में एक युवक ने हंगामा कर दिया। पर्ची के साथ पकड़े युवक का यूएमसी केस बनाकर हमीरपुर भेज दिया है।