Jun 18, 2024
Agriculture

इफ्को का फैसला: किसानों को यूरिया की स्प्रे के लिए मुफ्त में मिलेंगे पंप

इफ्को का फैसला: किसानों को यूरिया की स्प्रे के लिए मुफ्त में मिलेंगे पंप

न्यूज़ देशआदेश, शिमला

किसानों के लिए राहत भरी खबर है। हिमाचल प्रदेश में नैनो यूरिया के स्प्रे के लिए किसानों को पंप संबंधित सोसाइटी को मुफ्त उपलब्ध करवाने होंगे। इसके अलावा इफ्को प्रबंधन ने साफ कह दिया है कि यू्रिया खाद के बैग के साथ जबरन नैनो यूरिया की बोतल बेचने पर पाबंदी रहेगी।

इफ्को के राज्य विपणन प्रबंधक सुधीर मान ने कहा कि केंद्र सरकार हिमाचल सहित अन्य राज्यों में नैनो यूरिया को आम किसानों में लोकप्रिय बनाने के लिए जागरूक कर रही है। यूरिया खाद में सरकार को एक बैग में एक हजार से 1500 रुपये तक का उपदान देना पड़ रहा है। 45 किलोखाद का बैग 240 रुपये में बेचा जाता है जबकि आधा लीटर की नैनो यूरिया 240 रुपये में बेची जा रही है।

इस पर सरकार को कोई उपदान भी नहीं देना पड़ रहा है। जबकि बैग पर हजार रुपये उपदान केंद्र को देना पड़ता है। कई किसानों के पास नैनो यूरिया डालने के लिए स्प्रे पंप नहीं है, उनको सोसायटी की ओर से मुफ्त में पंप उपलब्ध करवाए जाएंगे। नैनो यूरिया स्प्रे करने के बाद पंप सोसायटी को वापस देना होगा। इफ्को अब हिमफेड को 16 सौ स्प्रे पंप और प्रत्येक सोसायटियों को एक-एक स्प्रे पंप मुफ्त में उपलब्ध करा रही है। इससे किसानों को नैनो यूरिया स्प्रे करने की दिक्कत नहीं रहेगी।

पांवटा साहिब: उपक्षेत्र प्रबन्धक सोलन एवं सिरमौर हरजीत सिंह द्वारा पौंटा तहसील यूनियन के प्रांगण में सहकारी कार्यकर्ता प्रशिक्षण कार्यक्रम का आयोजन किया गया । मुख्य अतिथि सुधीर मान राज्य विपणन प्रबंधक इफको मुख्य अतिथि थे। कार्यक्रम की अध्यक्षता कुलदीप ठाकुर ने की।जिसमें 40 पैक्स सचिवों ने भाग लिया। कार्यक्रम में बोलते हुए सुधीर मान ने बताया कि नैनो यूरिया किसानों के लिये अच्छा वरदान सिद्ध हो रहा है ।किसानों को इसका उपयोग करना चाहिए । उन्होंने
कहा कि नैनो यूरिया का उपयोग देश के हित में है ।
इस अवसर पर कृषि विभाग से डॉ. रश्मी भटनागर द्वारा सचिवों को कृषि विभाग से संबंधित समस्यायों का समाधान किया गया । सहकारिता विभाग से विनय शर्मा द्वारा विभाग से संबंधित जानकारी दी गई । कार्यक्रम मे उप क्षेत्र प्रबंधक हरजीत सिंह द्वारा जल विलेय उर्वरकों के बारे में जानकारी दी गई ।
कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए कुलदीप ठाकुर द्वारा इफको के राज्य विपणन प्रबंधक विशेश रूप से स्वागत किया गया व समितियों को आत्मनिर्भर बनाने हेतु सुझाव दिए । कार्यक्रम मे रणवीर सिंह राणा, गुरमेल सिंह, सुरेन्द्र सिंह ,गुलजार राठोड़, वाहिद हसन, तथा अन्य गणमान्य व्यक्ति विशेष रूप से उपस्थित रहे ।

रूस और यूरोपीय देशों से आयात हो रही यूरिया खाद

वर्तमान में यूरिया खाद रूस और यूरोपीय देशों से आयात किया जा रहा है और वहां से खाद 3.5 से चार हजार रुपये बैग के हिसाब से मिल रहा है। इसी कारण से अब सरकार नैनो यूरिया किसानों में लाई है। एक बैग यूरिया के बदले आधा लीटर की बोतल के बराबर है। 1 टन यूरिया खाद में कुल 22 थैले होते हैं। अभी तक एक लाख बोतल नैनो यू्रिया खाद बेची जा चुकी है। देश भर में कुल 1.40 करोड़ बोतलें साल में बेची जानी हैं।